शोभित जैन
मैं पल दो पल का ब्लॉगर हूँ,
पल दो पल मेरी कहानी है ||
पल दो पल की फुर्सत है,
महीनों में एक पोस्ट आनी है ||
मैं पल दो पल...

मुझसे
पहले कितने ब्लॉगर आये और आकर चले गए ..
कुछ टिप्पणी खोजते रह गए कुछ पोस्ट डालकर चले गए ..
वो भी एक एक पेज का किस्सा थे में भी एक पेज का किस्सा हूँ
जो कल गुमशुदा हो जाऊंगा , वो आज ब्लॉगजगत का हिस्सा हूँ ||
मैं पल दो पल...

कल और आयेंगे दीवाने, कुछ ना कुछ कुछ कहने वाले,
मुझसे बेहतर लिखने वाले, तुमसे बेहतर पढने वाले ||
क्या कोई मुझको याद करे, क्यूँ कोई मुझको याद करे
मसरूफ जमाना टिप्पणी देने, क्यूँ वक़्त अपना बर्बाद करे
मैं पल दो पल...
12 Responses
  1. yar sach kahun sare jajbat khol kar rakh diye


    bahut sundar


    ek bar fir badhai aap ko is ke liye



  2. kunwarji's Says:

    achcha pryaas....
    kal har pal ke blogger bhi banoge....
    kunwar ji,




  3. Gazab ... Shobhitji .. aapki perodi to kamaal ki hai ...

    Aapka India trip kaisa raha ... aasha hai bahut mazaa kiya hoga ...


  4. वाह!...मज़ा आ गया...बहुत ही बढ़िया


  5. शोभित जी इस अद्भुत पैरोडी के लिए कोटिश बधाई...कमाल किया है आपने...
    नीरज


  6. वाह ! क्या अंदाज़ है !


  7. Maza aa gaya!
    Insh'Allah ek Kamyaab blogger banenge aap!
    Meri shubhkaamnaen!


  8. बढ़िया प्रस्तुति पर हार्दिक बधाई.
    ढेर सारी शुभकामनायें.

    संजय कुमार
    हरियाणा
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com


  9. वाह ! क्या अंदाज़ है !


एक टिप्पणी भेजें